125+ Best Quotes For Narendra Modi | BJP Quotes in Hindi

BJP Shayari in Hindi, BJP Status in Hindi, BJP Quotes in Hindi, भाजपा शायरी, Bharatiya Janata Party Shayari in Hindi, भारतीय जनता पार्टी शायरी, Bharatiya Janata Party Quotes in Hindi, भाजपा पर अनमोल विचार, भाजपा स्टेटस, भारतीय जनता पार्टी पर विचार,

Quotes For Narendra Modi :- Narendra Modi’s name is on the lips of every Indian today. Today his name is included among the powerful people of the whole world. He is the first Prime Minister in Indian history who is so popular throughout India. Narendra Modi has become a source of inspiration for Indian youth today. His biography, which stands as an example before everyone today, was not easy to accomplish all this.

The points taken from the historical period of his life – a tea seller becoming the Prime Minister of the country inspires a lot while for some it has become a source of laughter for the opposition. Narendra Modi’s contribution in making India digital and achieving new heights has been very important. He became the Chief Minister of Gujarat for four consecutive terms and the Prime Minister of India twice. His entire biography is no less than that of a film actor.

हम बार बार कहते रहे हम हिंदुस्तानी हैं !!
वो बार बार हमें धर्म समझा रहा था !!

Quotes For Narendra Modi

आम आदमी पार्टी को देखो जहाँ-तहाँ देती हैं !!
धरना इनको भी सिखाओ वतन से इश्क करना !!

टूटी कलम और गैरो से जलन !!
हमे खुद का भाग्य लिखने नही देती !!

कब्र की मिट्टी हाथ में लिए सोच रहा हूँ !!
लोग मरते हैं तो गुरूर कहाँ जाता हैं !!

दुनिया सलूक करती हैं हलवाई की तरह !!
तुम भी उतारे जाओगे मलाई की तरह !!

बहुत खूब तुम ये !!
सियासत का खेल खेलते हो !!
हो देश भक्त !!
ये बोल बोल के देश लूटते हो !!

बड़ी चालाकी से तुम ने !!
खुद को छुपा रखा है !!
अपने झूठे वादों से !!
लोगों को बेहला रखा है !!

बुलंदी देर तक किस शख़्स के हिस्से में रहती है !!
बहुत ऊँची इमारत हर घड़ी खतरे में रहती है !!

कल सियासत में भी मोहब्बत थी !!
अब मोहब्बत में भी सियासत है !!

सरकार को गरीबों का ख्याल
कब आता है चुनाव नजदीक आ जाए तो
मुद्दा उछाला जाता है !!

Village Shayari In Hindi

Quotes For Narendra Modi

जिनको हम चुनते हैं वो ही हमें धुनते हैं,
चाहे बीवी हो या नेता दोनों कहाँ सुनते हैं !!

ये लोग पांव नही जे़हन से अपाहिज है !!
उधर चलेगे जिधर रहनुमा चलाता है !!

जो तौर है दुनिया का उसी तौर से बोलो !!
बहरो का इलाका है जरा जोर से बोलो !!

बिक रहे है बाजारो मे जमीर आजकल !!
कुर्सी ने लोगो को इतना खुदगर्ज बना दिया !!

एक आँसू भी हुकूमत के लिए ख़तरा हैं !!
तुम ने देखा नही आँखों का समन्दर होना !!

अब जो बाजार में रखे हो तो हैरत क्या हैं !!
जो भी निकलेगा वो पूछेगा ही कीमत क्या हैं !!

सत्तर बरस बिताकर सीखी लोकतंत्र ने बात !!
महामहिम में गुण मत ढूँढो पूछो केवल जात !!

दिल ना-उमीद तो नहीं नाकाम ही तो है !!
लम्बी है ग़म की शाम मगर शाम ही तो है !!

जो मौत से ना डरता था बच्चों से डर गया !!
एक रात खाली हाथ जब मजदूर घर गया !!

भर दो फिर आग उन बुझते चरागों में !!
जलाकर रख दे उन नफ़रत के अशियार्नो को !!

Instagram Shayari Bio In Hindi

BJP Status in Hindi

देखी नही जाती दुनिया से शायर की ख़ुशी !!
कि अक्सर शायरों के दर्द ही मशहूर होते हैं !!

आसमां पे हैं ख़ुदा और जमीं पे हम !!
आज कल वो इस तरफ देखता हैं कम !!

हमने दुःख के महासिन्धु से सुख का मोती बीना हैं !!
और उदासी के पंजो से हँसने का सुख छीना हैं !!

हम ना समझे थे बात इतनी सी !!
ख्वाब शीशे के दुनिया पत्थर की !!

बोलता ज्यादा हूँ पर नेता नहीं हूँ !!
बिना मतलब के किसी को कुछ देता नहीं हूँ !!

ये तेरे मन का खोट है जो तुझे सोने नहीं देता !!
मत दे दोष किसी को वक्त किसी का नहीं होता !!

कीमत तो खूब बढ़ गई दिल्ली में धान की !!
पर विदा ना हो सकी बेटी किसान की !!

वे सहारे भी नहीं अब जंग लड़नी है तुझे !!
कट चुके जो हाथ उन हाथों में तलवारें न देख !!

सरकार को गरीबों का ख्याल कब आता है !!
चुनाव नजदीक आ जाए तो मुद्दा उछाला जाता है !!

सरहदों पर बहुत तनाव है क्या !!
कुछ पता करो चुनाव है क्या !!

Attitude Quotes Instagram

BJP Quotes in Hindi

धुआं जो कुछ घरों से उठ रहा है,
न पूरे शहर पर छाए तो कहना !!

आज भी चुनावों का खेल अकेले ही खेलता हूँ,
क्योंकि जनता के विरुध चाल चलना मेने नहीं सिखा हें !!

गंदी राजनीति का यह भी एक परिणाम हैं,
बीस रूपये एक बोतल पानी का दाम हैं !!

रंग ढूँढने निकले लोग जब कबीले के !!
तितलियों ने मीलो तक रास्ते दिखाए थे !!

हर इक बात को चुप चाप क्यूँ सुना जाए !!
कभी तो हौसला कर के नही कहा जाए !!

जमी पे चल न सका !!
आसमान से भी गया !!
कटा के पर को परिंदा उड़ान से भी गया !!

दुआ करों मैं कोई रास्ता निकाल सकूँ,
तुम्हे भी देख सकूँ खुद को भी संभाल सकूँ !!

अपनी तिजोरी तो हर कोई भरता है,
ऐसे लोगो को नेता बनाओ जो जनता में विकास करता है !!

शेर खुद अपनी ताकत से जंगल का !!
राजा कहलाता है जंगल में चुनाव नहीं !!
होते वरना चिड़ीया जानवर भी बादशाह कहलाते !!

जो तौर है दुनिया का उसी तौर से बोलो,
बहरों का इलाका है ज़रा ज़ोर से बोलो !!

Bhaigiri Status in Hindi

BJP Shayari in Hindi

ऐसा कोई ईलाका नही जहां अपना कहर,
नहीं ऐसी कोई मोहल्ला नही जहां अपनी चली नही !!

नेता की बातों में सच्चाई का अभाव होता है,
झूठ बोलना तो इनका स्वभाव होता हैं !!

नेता भी क्या खूब ठगते हैं,
ये तो 5 साल बाद ही दिखते हैं !!

वो चाहता था कि कासा खरीद ले मेरा,
मैं उसके ताज की क़ीमत लगा के लौट आया !!

कीमत तो खूब बढ़ गई दिल्ली में धान की,
पर विदा ना हो सकी बेटी किसान की ,

जनता ने कैसा माहोल कर दिया बेजान,
लोगों को भी हिंदू और मुसलमान कर दिया ,

रहनुमाओं की अदाओं पे फ़िदा है दुनिया,
इस बहकती हुई दुनिया को सँभालो यारो,

बारी-बारी लूट रहे है लगा-लगा कर अपना,
फेरा सामूहिक चुप्पी के नीचे पलता है बेशर्म अँधेरा !!

मुझे कर्म करने से मंजिल नहीं मिल रही है,
अब बड़ा कांड करके देखेंगे पंचायती राज !!

सरकार को गरीबों का ख्याल कब आता है !!
चुनाव नजदीक आ जाए तो मुद्दा उछाला जाता है !!

इंस्टाग्राम शायरी Attitude

भाजपा शायरी

जहाँ सच हैं !!
वहाँ पर हम खड़े हैं !!
इसी खातिर आँखों में गड़े हैं !!

नेता की बातों में सच्चाई का अभाव होता है !!
झूठ बोलना तो इनका स्वभाव होता हैं !!

नेता भी क्या खूब ठगते हैं !!
ये तो 5 साल बाद ही दिखते हैं !!

नजर वाले को हिन्दू और मुसलमान दिखता हैं !!
मैं अन्धा हूँ साहब मुझे तो हर शख्स में इंसान दिखता हैं !!

लोकतंत्र जब अपने असली रंग में आता हैं !!
तो नेताओं की औकात का पता चल जाता हैं !!

तुम से पहले वो जो इक शख़्स यहाँ तख़्त-नशीं था !!
उस को भी अपने ख़ुदा होने पे इतना ही यक़ीं था !!

गंदी राजनीति का यह भी एक परिणाम हैं !!
बीस रूपये एक बोतल पानी का दाम हैं !!

न समझोगे तो मिट जाओगे ऐ हिंदुस्तान वाला !!
तुम्हारी दास्ताँ तक भी न होगी दास्तानों में !!

मेरा झुकना और तेरा खुदा हो जाना !!
अच्छा नही इतना बड़ा हो जाना !!

बारूद के इक ढेर पे बैठी !!
दुनिया को क्या सूझ रही हैं !!
शोलो से हिफ़ाजत का हुनर पूछ रही हैं !!

Republic Day Quotes in Hindi

Bharatiya Janata Party Shayari in Hindi

अपनी अदा हैं सबसे निराली !!
इसलिए राजनीति से दूरी बना ली !!

दोस्ती हो या दुश्मनी सलामी दूर से अच्छी लगती हैं !!
राजनीति में कोई नही सगा ये बात सच्ची लगती हैं !!

ये संग दिलो की दुनिया हैं !!
संभल कर चलना ग़ालिब !!
यहाँ पलको पर बिठाते हैं !!
नजरो से गिराने के लिए !!

हर कोई यहाँ किसी न किसी !!
पार्टी के विचारो का गुलाम हैं !!
इसलिए भारत का ये हाल हैं !!
किसान बेहाल हैं !!
नेता माला-माल हैं !!

जो धरापुत्र का वध कर दे !!
वह राजपुरूष नाकारा हैं !!
जिस धरती पर किसान का रक्त गिरे !!
उसका शासक हत्यारा हैं !!

रहनुमाओं की अदाओं पे फ़िदा है दुनिया !!
इस बहकती हुई दुनिया को सँभालो यारो !!

जो सौदागर डॉलर का हैं !!
वो खेती को क्या आँकेगा !!
धरती रोटी ना देगी तो खाने में सोना फँकेगा !!

कीमत तो खूब बढ़ गई दिल्ली में धान की !!
पर विदा ना हो सकी बेटी किसान की !!

वे सहारे भी नहीं अब जंग लड़नी है तुझे !!
कट चुके जो हाथ उन हाथों में तलवारें न देख !!

नेताओ के घर आज भी चमक-दमक रहे हैं !!
भारत में कुछ नवजात बच्चे भूखे पल रहे हैं !!

Ram Mandir Ayodhya

भारतीय जनता पार्टी शायरी

भारत के हम परिंदे आसमां हैं !!
हद हमारी जानते हैं चाँद-सूरज !!
जिद हमारी जद हमारी !!

स्वर्ग के सम्राट को जा कर ख़बर कर दे !!
रोज ही आकाश चढ़ते आ रहे हैं वो दिनकर !!

जीवन में उठना है तो भाजपा की तरह उठो,
कि हर विपक्षी अपना कद छोटा महसूस करने लगे,

विपक्ष को समझ में नहीं आती पर कुछ बात तो है,
भाजपा में नफरत की राजनीति करके
कोई इतना बड़ा नहीं बनता है,

जब कोई व्यक्ति किसी पार्टी का विरोध करता है,
तो उस पार्टी को बड़ा बनाने में योगदान करता है,

मोदी जी के जीवन का संघर्ष और उनकी,
कामयाबी आने वाली पीढ़ियों के लिए एक प्रेरणा है,

हर-चंद एतबार में धोके भी हैं,
मगर ये तो नहीं किसी पे भरोसा किया न जाए,

जब जब मोदी जैसा नेता बीजेपी को मिलता है,
तब तब राजनीति के दलदल में कमल खिलता है,

जीवन में उठना है तो भाजपा की तरह उठो,
कि हर विपक्षी अपना कद छोटा महसूस करने लगे,

जो महिलाओ और बच्चियों का भी करे सन्मान,
वो है अपनी मोदी सरकार,

Shri Ram Quotes

Bharatiya Janata Party Quotes in Hindi

धूल चाट रहा जो धन अमीरो की तिजोरियों में,
उस धन को वो सही हक़दार तक पहुचाएंगे,

राजनीति में अब युवाओं को भी आना चाहिए !!
देश को ईमानदारी का आईना दिखाना चाहिए !!

सफ़र में धूप तो होगी जो चल सको तो चलो,
सभी हैं भीड़ में तुम भी निकल सको तो चलो,

अक्सर वही दीये हाथों को जला देते हैं !!
जिसको हम हवा से बचा रहे होते हैं !!

लहरों को खामोश देखकर यह न समझना कि !!
समंदर में रवानी नही हैं !!
हम जब भी उठेंगे तूफ़ान बन कर उठेंगे !!
बस उठने की अभी ठानी नही हैं !!

बन सहारा बे-सहारो के लिये !!
बन किनारा बे-किनारो के लिये !!
जो जीये अपने लिये तो क्या जीये !!
जी सके तो जी हज़ारो के लिये !!

अब कोई और न धोखा देगा !!
इतनी उम्मीद तो वापस कर दे !!
हम से हर ख़्वाब छीनने वाले !!
हमारी नींद तो वापस कर दे !!

क्या खोया क्या पाया जग में !!
मिलते और बिछुड़ते मग में !!
मुझे किसी से नही शिकायत !!
यद्यपि छला गया पग-पग में !!

राजनीति का रंग भी बड़ा अजीब होता है !!
वही दुश्मन बनता है जो सबसे करीब होता है !!
सरहदों पर बहुत तनाव है क्या !!
कुछ पता तो करो चुनाव है क्या !!
और खौफ बिखरा है दोनों समतो में !!
तीसरी समत का दबाव है क्या !!

जरूरत पर सब यार होते हैं !!
जरूरत न हो तो पलट कर वार होते हैं !!
चुनाव नजदीक आ रहा हैं बच के रहना !!
क्योंकि ज्यादातर नेता गद्दार होते हैं !!

जय श्री राम शायरी

भाजपा पर अनमोल विचार

जनता ने माया को देखा !!
फिर माया का हाथी देखा !!
दोनों की एक ही भाग्य रेखा !!
बस में दोनों के कुछ नहीं !!
बस करते रहो देखी देखा !!

सुना दीदी का है दिल दीवाना !!
बोले बंगाल है उसको दीवाना !!
काम है उसका सबको रुलाना !!
अतः राजनीती का काम दीदी दीदी !!
गुनगुनाते जाना गुनगुनाते जाना !!

केजरीवाल की खांसी से जंग है !!
दिल्ली प्यारी खांसी के संग है !!
क्योंकि दिल्ली में प्रदुषण रंग है !!
यही केजरी के जीतने का ढंग है !!

दोस्ती हो या दुश्मनी !!
सलामी दूर से अच्छी लगती हैं !!
राजनीति में कोई नही सगा !!
ये बात सच्ची लगती हैं !!

ये संग दिलो की दुनिया हैं !!
संभल कर चलना ग़ालिब !!
यहाँ पलको पर बिठाते हैं !!
नजरो से गिराने के लिए !!

हर कोई यहाँ किसी न किसी !!
पार्टी के विचारो का गुलाम हैं !!
इसलिए भारत का ये हाल हैं !!
किसान बेहाल हैं नेता माला माल हैं !!

जो धरापुत्र का वध कर दे !!
वह राजपुरूष नाकारा हैं !!
जिस धरती पर किसान का रक्त !!
गिरे उसका शासक हत्यारा हैं !!

राजनीति का काम समाज के लिए,
विकास और उन्नति के लिए नीतियां बनाना है,
लेकिन नेताओं ने राजनीति को,
राज करने की नीति तक सीमित कर दिया है,

इन नेताओं से कह दो,
अगर सियासत करनी है,
तो इमानदारी से करो,
जनता ने जो जिम्मेवारी सौंपी है,
उस तुम जिम्मेवारी से करो,

राजनीतिक संघर्ष चुनाव तक रह गया,
विकास का मुद्दा बहाव में बह गया,
हर बार सियासत ने जुल्म किये,
ग़रीब हर बार जुल्म दबाव में सह गया,

Miss You Maa Shayari

भाजपा स्टेटस

कभी भाई को भाई से अलग करती है,
तो कभी बाप को बेटे से जुदा करती है,
जितनी मर्ज़ी वफादारी निभा लो मगर,
सियासत कहां किसी से वफ़ा करती है,

राजनीति की सियासत के कई रंग देखे,
रिश्तों पर हावी होते राजनीति के ढंग देखे,
राजनीति के खेल में कोई सगा नहीं,
बाप बेटे एक दूसरे के काटते पतंग देखे,

राजनीति का रिश्तों में उतना ही दखल हो,
जितना कि राजनीति रिश्तों में दरार ना बनें,
चूस रहे जो ग़रीबों के खून पसीने की कमाई,
ऐसे दमनकारीयों की कभी सरकार ना बने,

राजनीति को विरासत समझ बैठे हैं,
भ्रष्टाचार को सियासत समझ बैठे हैं,
सत्ता के नशे में इतने चूर हैं ये नेता कि,
देश को अपनी रियासत समझ बैठे हैं,

चुनाव प्रचार में ख़ूब वादे करते हैं,
समाज सेवा की खातिर ज़ाहिर इरादे करते हैं,
बदल जाते हैं चुनाव के बाद,
राजनेता राजनिति और चापलूसी प्यादे करते हैं,

जब से झूठे नेता आ गए हैं प्रभाव में,
जनता परेशान है सुविधा के अभाव में,
सियासत के जो बन बैठे हैं सरोकार,
उन्हें मज़ा चखाना इस बार चुनाव में,

राजनीति का लक्ष्य सिर्फ पैसा कमाना रह गया,
झूठ को सच सच को झूठ दिखाना रह गया,
समाज सेवा के लिए सियासत में आना,
आकर नेता भरता ख़ुद का ही ख़ज़ाना रह गया,

ये वक्त बहुत ही नाजुक हैं !!
हम पर हमले दर हमले हैं !!
दुश्मन का दर्द यही तो हैं !!
हम हर हमले पर संभले हैं !!

मैं तो इस वास्ते चुप हूँ !!
कि तमाशा न बने !!
और तू समझता हैं मुझे !!
तुझसे गिला कुछ भी नही !!

पनाहों में जो आया हो !!
तो उस पे वार क्या करना !!
जो दिल हारा हुआ हो !!
उस पे फिर अधिकार क्या करना !!
मोहब्बत का मज़ा डूबने की कश्मकश में हैं !!
हो गर मालूम गहराई तो दरिया पार क्या करना !!

Shayari Ki Dayri in Hindi

भारतीय जनता पार्टी पर विचार

तूफ़ानो से आँख मिलाओ !!
सैलाबों पर वार करो !!
मल्लाहो का चक्कर छोड़ो !!
तैर कर दरिया पार करो !!

मुर्दा लोहे को औजार बनाने वाले !!
अपने आँसू को हथियार बनाने वाले !!
हमको बेकार समझते हैं सियासतदां !!
मगर हम है इस मुल्क की सरकार बनाने वाले !!

युद्धों में कभी नहीं हारे !!
हम डरते है छलचंदो से !!
हर बार पराजय पाई है !!
अपने घर के जयचंदो से !!

सियासत की रंगत में ना डूबो इतना !!
कि वीरों की शहादत भी नजर ना आए !!
जरा सा याद कर लो अपने वायदे जुबान को !!
गर तुम्हे अपनी जुबां का कहा याद आए !!

न मस्जिद को जानते हैं !!
न शिवालो को जानते हैं !!
जो भूखे पेट हैं !!
वो सिर्फ निवालों को जानते हैं !!

इस बात से सलाम करना मेरी !!
सूरत का अंदाजा वह लोग लगाते हें !!
जो मुझे सलाम ठोकते हैं !!
जिन्हें तू सलाम करता है !!

चोर बेईमान और भ्रष्ट !!
नेताओं की क्यों करते हो बात !!
लोकतंत्र की ताकत है !!
जनता में दिखला दो इनकी औकात !!

तेरे हर झूठे वादे पर मक्कारी पर लानत है ,
देश मे फैली नफ़रत वाली बीमारी पर लानत है,
देश लूटकर रोज़ लुटेरे नाक के नीचे भाग रहे ,
चौकीदार तेरी ऐसी चौकीदारी पर लानत है ,
याद है इक जुमले पर जब क़ुर्बान गई है ,
ये जनता रूठी तो फर्जी़,

नजर वाले को हिन्दू,
और मुसलमान दिखता हैं,
मैं अन्धा हूँ साहब मुझे तो हर,
शख्स में इंसान दिखता हैं !!

इस मंच को सभा को ज़रा प्यार दीजिये,
थोड़ा प्रशंसकों पर उपकार कीजिये,
नेह निमंत्रण इसे स्वीकार लीजिये,
नेता जी आप मंच पर आकर विराजिये ,

Bike Shayari in Hindi

भाजपा पर अनमोल विचार

जनता को वो झूंठे वादे अब फिर से मिलने वाले है,
हम जनता के सेवक हैं झांसे फिर से मिलने वाले है,
दुनिया की सारी सुख सुबिधायें अब जनता की है,
सावधान जनता अब वोटों के भिक्षुक मिलने वाले है ,

हर दिन बेचारा सैनिक सरहद पर मारा जाता है,
तुम कहते थे एक सर के बदले मे दस सर लाऊँगा,
छप्पन इंची वाली ऐसी दमदारी पर लानत है,

कैसी है ये ज़िम्मेदारी सांई की !!
जनता जान गयी मक्कारी सांई की !!
देश को लूटने वाले लूट के ले जाएं !!
मान गये हम चौकीदारी सांई की !!

मूल जानना बड़ा कठिन हैं नदियों का वीरो का !!
धनुष छोड़कर और गोत्र क्या होता हैं रणधीरो का !!
पाते हैं सम्मान तपोबल से भूतल पर शूर !!
जाति-जाति का शोर मचाते केवल कायर क्रूर !!

मुर्दा लोहे को औजार बनाने वाले !!
अपने आँसू को हथियार बनाने वाले !!
हमको बेकार समझते हैं सियासतदां !!
मगर हम है इस मुल्क की सरकार बनाने वाले !!

आज कल हर जगह वोटो के भिखारी निकल पड़े है,
कुटिल राजनीति के मझे हुए खिलाडी निकल पड़े है,
गलतियों का दोष औरो पर मढने का जो चलन है,
उसे निभाने के लिये बहुत से अनाड़ी निकल पड़े है,

पूँजीपतियो से सन्यासी की यारी पर लानत है,
चौकीदार तेरी ऐसी चौकीदारी पर लानत है,
याद करो वो जुमला न खाने दूँगा ना खाऊँगा,
वतन पे ऑंच गई तो फिर लाहौर तलक चढ जाऊँगा,

इंडिया की राजनीति मे मचा हुआ घमासान है,
लोक सभा की सीट ही जैसे हर नेता का अरमान है,
टिकेट पाने होड़ में रिश्ते नाते भूल रह्रे है,
पुरानी पार्टी छोड़ कर नए गठबंधन जोड़ रहे है,

राजनीति में हर कोई होशियार हैं,
हर नेता चोरी करने को तैयार हैं,
पकड़ा न जाऊं इसका ख़ास ध्यान रखते हैं,
घमंड से भरे पर साधारण दिखने का प्रयास करते हैं !!

याद है इक जुमले पर जब क़ुर्बान गई है,
ये जनता रूठी तो फर्जी़ ऑंसू पर मान गई है,
ये जनता ललित से नीरव मोदी तक,
पर ख़ामोशी ही ख़ामोशी किसके अच्छे,
दिन आये अब जान गई है ये जनता ,

Shayari For Love in Hindi

भारतीय जनता पार्टी शायरी

न मस्जिद को जानते हैं,
न शिवालो को जानते हैं,
जो भूखे पेट हैं,
वो सिर्फ निवालों को जानते हैं !!

महाराष्ट्र हो या बिहार हर,
रिश्ते पड़ी दरार वोट पाने की,
चाह में कर रहे एक दूजे पर वार,

सियासत की रंगत में ना डूबो इतना,
कि वीरों की शहादत भी नजर ना आए,
जरा सा याद कर लो अपने वायदे जुबान को,
अगर तुम्हे अपनी जुबां का कहा याद आए !!

अगर कोई आपको भक्त कहकर,
संबोधित करे तो समझ जाओ वो अपना,
परिचय चमचे के रूप में दे रहा है !!

चोर बेईमान और भ्रष्ट !!
नेताओं की क्यों करते हो बात !!
लोकतंत्र की ताकत है जनता में !! !!
दिखला दो इनकी औकात !!

मोदी जी ने न जाने कितने लाख दे दिए,
और हम है जो पंद्रह लाख पर अटके है,
अरे जाकर उनसे भी थोड़ा हिसाब लो,
जिन्होंने हमारे देश के करोड़ो गटके है,

सभी एक जैसा ही लिखते हैं !!
बस मतलब बदल जाते हैं !!
सरकारे वैसे ही चलती हैं !!
बस वजीर एआजम बदल जाते हैं !!

मैं अपनी आँख पर चशमाँ चढ़ा कर देखता हूँ !!
हुनर ज़ितना हैं सारा आजमा कर देखता हूँ !!
नजर उतना ही आता हैं की ज़ितना वो दिखाता है !!
मैं छोटा हू मगर हर बार कद अपना बढ़ा कर देखता हूँ !!

राजा बोला रात है !!
राणी बोली रात है !!
मंत्री बोला रात है !!
संत्री बोला रात है !!
यह सुबह सुबह की बात है !!

मुझको तमीज की सीख देने वाले !!
मैंने तेरे मुँह में कई जुबान देखा है !!
और तू इतना दिखावा भी ना कर !!
अपनी झूठी ईमानदारी का !!
मैंने कुछ कहने से पहले !!
अपने गिरेबां में देखा है !!

 Zindagi Ki Sachi Baatein Quotes

BJP Quotes in Hindi

सियासत की रंगत में ना डूबो इतना !!
कि वीरों की शहादत भी नजर ना आए !!
जरा सा याद कर लो अपने वायदे जुबान को !!
गर तुम्हे अपनी जुबां का कहा याद आए !!

न मस्जिद को जानते हैं !!
न शिवालो को जानते हैं !!
जो भूखे पेट हैं !!
वो सिर्फ निवालों को जानते हैं !!

क्या खोया क्या पाया जग में !!
मिलते और बिछुड़ते मग में !!
मुझे किसी से नही शिकायत !!
यद्यपि छला गया पग-पग में !!

सवाल जहर का नहीं था !!
वो तो मैं पी गया !!
तकलीफ लोगों को तब हुई !!
जब मैं फिर भी जी गया !!

हमारी रहनुमाओ में !!
भला इतना गुमां कैसे !!
हमारे जागने से !!
नींद में उनकी खलल कैसे !!

इस नदी की धार में !!
ठंडी हवा तो आती हैं !!
नाव जर्जर ही सही !!
लहरों से टकराती तो हैं !!

करें तो किस से करें शिकवे !!
करें किस से गिले कहाँ चले थे !!
कहाँ पहुँचे हैं कहाँ पे मिले !!

चंद चेहरे लगेंगे अपने से !!
खुद को पर बेकरार मत करना !!
आखरिश दिल्लगी लगी दिल पर !!
हम न कहते थे प्यार मत करना !!

में तो इलेक्सन का बादशाह हूँ,
जो सुनते भी दिल की आवाज हैं,
और करते भी अपनी हैं !!

सभी एक जैसा ही लिखते है,
बस मतलब बदल जाते है,
सरकारे वैसे ही चलती हैं बस,
वजीर-ए-आजम बदल जाते हैं ,

सच्ची और अच्छी बातें मोटिवेशन

BJP Status in Hindi

देश को बदलने का जज्बा,
सरकारी नौकरी में आते है,
नौकरी मिल जाते ही य,
दामाद-सा लुफ्त उठाते है ,

राजनीति का जनून भी बड़ा गजब होता है,
वही लोग दुश्मन बनता है,
जो सबसे ख़ास होते है !!

भ्रष्टाचार को भ्रष्टाचार के नाम से ही बेच रहे है,
काले धन के है ये बयपारी वोटों के,
गरीबी वो क्या मिटायेंगे मिटाकर गरीबों को,
जमीन भी बेच खायी ये सौदागर हैं वोटों के,

राजनीति में लोगो को,
अब बड़ा सोचना चाहिए,
जाति-पाति से ऊपर उठकर,
ईमानदार नेता चुनाना चाहिए !!

वोटों के खातिर निकले हैं,
कुछ सौदागर लेके बण्डल नोटों के,
बिकती है हर चीज यहाँ,
खरीदार है यहाँ कुछ नेता वोटों के,

देश को बदलने का जज्बा,
सरकारी नौकरी में आते है,
नौकरी मिल जाते ही य,
दामाद-सा लुफ्त उठाते है ,

वोटों के खातिर निकले हैं,
कुछ सौदागर लेके बण्डल नोटों के,
बिकती है हर चीज यहाँ,
खरीदार है यहाँ कुछ नेता वोटों के,

अब ख़ासदार ख़ास आदमी का है कहाँ,
अब आमदार आम आदमी का है कहाँ,
अब आजकल के नेता कहाँ आपसे यहाँ,
अब आदमी भी आज आदमी का है कहाँ ,

हमने दुनिया में मुहब्बत का,
असर जिंदा किया हैं,
हमनें नफ़रत को गले मिल-मिल,
के शर्मिंदा किया हैं !!

काजल के पर्वत पर चढ़ना !!
और चढ़ कर पार उतरना !!
बहुत कठिन हैं !!
निष्कलंक रह करके ये सब करना !!

Join our whatsapp gruop

BJP Shayari in Hindi

अगर तू दोस्त हैं !!
तो फिर ये खंजर क्यूँ हैं हाथो में !!
अगर दुश्मन हैं !!
तो आख़िर मेरा सिर क्यूँ नही जाता !!

मूल जानना बड़ा कठिन हैं !!
नदियों का वीरो का !!
धनुष छोड़कर और गोत्र क्या होता हैं !!
रणधीरो का पाते हैं !!
सम्मान तपोबल से भूतल पर शूर !!
जाति जाति का शोर मचाते केवल कायर क्रूर !!

जो मातृभूमि की जय कहते सकुचाते !!
मजहब को मुल्क से ऊपर बतलाते !!
नमक देश का खाते दुश्मन गुण गाते !!
ऐसे गद्दारों पे कुत्ते भी तो शरमाते !!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *